Shadow

गुजरात से 1208 मजदूरों को लेकर बिलासपुर पहुंची ट्रेन, जाँच के बाद 14 दिनों तक क्वारैंटाइन सेंटर में रहेंगे

shramik-express

बिलासपुर | छत्तीसगढ़ के 1208 प्रवासी श्रमिकों और छात्रों को लेकर गुजरात से आने वाली पहली ट्रेन सोमवार सुबह बिलासपुर स्टेशन पहुंच गई। यहां सोशल डिस्टेंसिंग के साथ एक-एक मजदूर की जांच की जा रही है। इसके बाद इन मजदूरों को बस से सीधे क्वारैंटाइन सेंटर रवाना किया जाएगा। जहां वे 14 दिनों तक रहेंगे।

सबसे पहले मुंगेली के श्रमिकों को ट्रेन से नीचे उतारा गया। उनकी जांच के बाद उन्हें बस से जाने के लिए भेजा गया। इसके बाद अन्य जिलों के श्रमिकों की मेडिकल जांच की जा रही है। मजदूरों को लाइन बनाकर अलग-अलग काउंटर पर भेजा गया है। अब 2 दिन बाद 2 ट्रेनें लखनऊ से रायपुर आएंगी।

जांच और स्क्रीनिंग के बाद सभी को 60 बसों से क्वारैंटाइन सेंटरों में भेजा गया। इसके लिए बसें भी स्टेशन के बाहर पहुंच गई हैं। 84 मजदूर दूसरे जिलों के भी हैं उन्हें भी भेजने का इंतजाम किया जाएगा। वहीं, दो दिन बाद लखनऊ से रायपुर के लिए भी ट्रेन मजदूरों को लेकर पहुंचेगी। सबसे पहले लखनऊ से तीन और मुजफ्फपुर से एक ट्रेन रायपुर आएगी।

अलग-अलग जिलों के श्रमिकों को अलग-अलग गेट से निकाला जाएगा

ट्रेन अहमदाबाद, गोधरा, रतलाम, बीना, कटनी, पेंड्रारोड से होते हुए बिलासपुर पहुंचेगी। इस ट्रेन में मुंगेली जिले के 20, जांजगीर-चांपा के 53 और दुर्ग के 11 लोग भी शामिल हैं। हर बोगी में कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। स्टेशन के हर गेट में स्वास्थ्य विभाग की टीम तैनात रहेगी। ये सभी का स्वास्थ्य परीक्षण और स्क्रीनिंग करेगी। स्टेशन के गेट नंबर दो से दूसरे जिलों के लोगों को स्टेशन से बाहर निकाला जाएगा। गेट नंबर 3 से मस्तूरी और गेट नंबर 4 से अन्य विकासखंडों के लोग बाहर निकाले जाएंगे।

श्रमिकों के लिए ये तैयारियां की गईं

  • अलग-अलग राज्यों में बिलासपुर के करीब 70 हजार मजदूर फंसे हैं। इनके आने का सिलसिला 11 मई से चल रहा है।
  • बिलासपुर जिले के लोगों के लिए 60 बसों की व्यवस्था की गई है। स्टेशन के बाहर दो 108-एंबुलेंस भी तैनात होगी।
  • बुधवारी बाजार समेत रेलवे क्षेत्र की सभी दुकानों के खुलने पर रोक लगा दी है, लेकिन सभी बैंक खुलेंगे।
  • स्टेशन के मुख्य और वीआईपी गेट से मजदूराें को प्लेटफॉर्म नंबर-1 पर आने वाली ट्रेन से बाहर निकाला जाएगा।
  • सभी मजदूरों का थर्मल स्क्रीनिंग के साथ ही सांस में ऑक्सीजन की चेकिंग होगी।
  • पहली ट्रेन में 1208 मजदूर आएंगे। इसमें 1104 मजदूर बिलासपुर जिले के हैं। दूसरी ट्रेन में 1212 मजदूर होंगे।
  • रेलवे स्टेशन से बस में बैठकर सभी मजदूर बहतराई स्टेडियम पहुंचेंगे, जहां इनका स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा।
  • मजदूरों के परिजनों या किसी भी व्यक्ति से प्रवासी मजदूरों से मिलने नहीं दिया जाएगा।
RO-11274/73

Leave a Reply