Shadow

Tag: Marwahi by-election

मरवाही उपचुनाव में जाति प्रमाण पत्र के विवाद पर सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि- जोगी और रमन की जुगलबंदी सब जानते हैं; रमन का पलटवार- डर गई है सरकार

मरवाही उपचुनाव में जाति प्रमाण पत्र के विवाद पर सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि- जोगी और रमन की जुगलबंदी सब जानते हैं; रमन का पलटवार- डर गई है सरकार

chhattisgarh, politics
मरवाही उपचुनाव में जाति के विवाद के बीच सियासत का रंग गहरा रहा है। रविवार को मामले में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपनी प्रतिक्रिया दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा ने नकली आदिवासी के मुद्दे पर चुनाव लड़ा और सत्ता में आए। यह भी कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने जाति मामले में 15 साल लगा दिए, और उसी की दम पर सत्ता हासिल की। जोगी की जाति के संबंध में उनकी ही शिकायत थी। सब जानते है कि किस प्रकार से इनकी जुगलबंदी रही है। सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि आदिवासी या अनुसूचित जाति के नाम पर बहुत से लोग फर्जी सर्टिफिकेट बनाकर नौकरी करते हैं। शिकायत होती है तो स्टे लेकर सालों तक फायदा उठाते रहते हैं। अब फैसला आया तो भाजपा को इसका स्वागत करना चाहिए, जो वो 15 साल में नहीं कर पाए- हमने 18 महीने में कर दिया। दरअसल, मरवाही में उपचुनाव में नामांकन पत्र दाखिल करने वाले अमित जोगी और ऋचा जोगी का पहले जाति सर्टिफ...
मरवाही उपचुनाव : नामांकन रद्द होने के बाद अमित जोगी ने कहा – जोगी को हराना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन था, बचा था यही हथकंडा

मरवाही उपचुनाव : नामांकन रद्द होने के बाद अमित जोगी ने कहा – जोगी को हराना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन था, बचा था यही हथकंडा

chhattisgarh
पेंड्रा: मरवाही उपचुनाव के लिए नामांकन रद्द होने के बाद जेसीसीजे अध्यक्ष अमित जोगी ने बड़ा बयान दिया है। अमित जोगी ने कहा है कि जोगी को हराना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन था। सरकार के पास यही हथकंडा बचा था। मेरे परिवार को राजनैतिक रूप से खत्म करने की साजिश की जा रही है, लेकिन आखिरी सांस तक मरवाही की जनता की जोगी परिवार का सेवा करेगी। उन्होंने पार्टी के उम्मीदवार को लेकर कहा है कि प्रत्याशी कौन होगा कोर कमेटी में निर्णय लिया जाएगा। हम इस मामले को आगे कोर्ट में ले जाएंगे। वहीं दूसरी ओर इस मामले को लेकर कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा है कि यह निर्णय निर्वाचन प्रक्रिया के तहत लिया गया है। उन्होंने कहा है कि निर्वाचन अधिकारी ने नामांकन रद्द किया है। सरकार किसी का नामांकन निरस्त नहीं करती। नामांकन दाखिल करने वैध प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है। मरवाही एसटी के लिए आरक्षित है। इसलिए समिति की ओ...

मरवाही उपचुनाव : दंगाइयों से निपटने पुलिसकर्मियों ने किया मॉक ड्रिल

chhattisgarh, politics
गौरेला-पेंड्रा-मरवाही। मरवाही उपचुनाव में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए शासन के निर्देश पर अमरपुर स्थित पुलिस लाइन परिसर में दंगा नियंत्रण मॉक ड्रिल का अभ्यास पुलिसकर्मियों ने किया, जिसमें दंगाइयों से किस तरह से निपटा जाए इसका अभ्यास किया गया। पुलिस अधीक्षक सूरज सिंह परिहार ने अभ्यास के दौरान आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। रिजर्व पुलिस लाइन परिसर में पुलिस टीम का जज्बा परखा गया। दंगा होने की स्थिति में पुलिस के एक्शन में आने के साथ ही इन हालात में निपटने के लिए किस रैंक के अफसरों को किस तरह से अपनी भूमिका को तय करके एक्शन में आना है इसका अभ्यास कराया गया। दंगाइयों से निपटने के लिए पुलिस अधिकारी और थानाध्यक्ष व उपनिरीक्षकों ने मॉक ड्रिल किया। इस दौरान दंगाई बने पुलिसकर्मियों पर पत्थर भी चले, लाठी चार्ज हुआ। पुलिस कर्मियों को दंगे के दौरान गंभीर बातों से अवगत कराया गया। पूर्वाभ्यास ...