Shadow

Tag: indravati river

बचेली : पिकनिक मनाने गये चार दोस्त इंद्रावती नदी में दो डूबे, एक की मौत, एक लापता

बचेली : पिकनिक मनाने गये चार दोस्त इंद्रावती नदी में दो डूबे, एक की मौत, एक लापता

chhattisgarh
दंतेवाड़ा. छत्तीसगढ़ के दंतेवाडा़ जिले के मुचनार के किनारे बहने वाली इंद्रावती नदी शुक्रवार को हादसा हो गया। इसमें एक युवक की मौत हो गई, एक अन्य की कोई जानकारी देर रात तक नहीं मिली। रायपुर के गुढ़ियारी में रहने वाला उमेश ठाकुर एनएमडीसी दंतेवाड़ा में काम करता है। इससे मिलने और पिकनिक मनाने रायपुर से  तीन अन्य दोस्त पहुंचे थे। युवक नदी के किनारे गए कुछ देर बाद डूबने लगे। उन्हें देख  अचानक नदी में डूबते देख मौजूद मछुवारों व अन्य लोगों ने नदी में छलांग लगाई। इनमें से दो लोगों को सुरक्षित बचाया गया। पुलिस के अनुसार शुक्रवार को उमेश के तीन मित्र विजय गुप्ता, अभिषेक खंडेलवाल और हितेश शर्मा रायपुर से पिकनिक मनाने के लिए बचेली आये। इसके बाद चारों दोस्त मिलकर मुचनार गये। यहां इंद्रावती नदी के किनारे पहले दोस्तों ने जमकर पार्टी मनाई। अभिषेक खंडेलवाल और हितेश शर्मा को नदी में डूबने से बचा लिया ...
उफनती इंद्रावती नदी के बीच फंसी यात्रियों से भरी मोटर बोट; पांच घंटे के बाद बचाया गया

उफनती इंद्रावती नदी के बीच फंसी यात्रियों से भरी मोटर बोट; पांच घंटे के बाद बचाया गया

chhattisgarh
दंतेवाड़ा (एजेंसी) | छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में सोमवार दोपहर उफनती इंद्रावती नदी में यात्रियों से भरी मोटरबोट खराब हो गई। इसके चलते करीब एक दर्जन से ज्यादा यात्री बीच धार में फंस गए। यह सभी यात्री मोटरबोट से नदी पार कर रहे थे। सूचना मिलने पर कलेक्टर और एसपी सहित रेस्क्यू टीम करीब चार घंटे बाद मौके पर पहुंचे। इसके बाद करीब ढाई घंटे चले रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद सभी केा बचा लिया गया है। बीच नदी में चट्‌टान के सहारे हैं यात्री, पांच को बचाया गया https://youtu.be/x5Q0QjsShqM जानकारी के मुताबिक, बारसूर थाना क्षेत्र के मुचनार घाट से सोमवार दोपहर करीब 12.15 बजे तीन बच्चों सहित 24 ग्रामीण मोटरबोट पर नदी पार कर रहे थे। इसी दौरान बीच नदी में अचानक मोटरबोट खराब हो गई। जिसके चलते सब वहीं फंस गए। बोट में फंसे ग्रामीणों ने किसी नदी के बीच में निकली चट्‌टान का सहारा लेकर खुद को बचाए रखा है। सूचना मिलने के...
ओडिशा के बांध के चार गेट खुलने से इंद्रावती और शबरी नदी उफान पर, पहली बार डूबा सुकमा, 4 हजार लोग राहत शिविरों में

ओडिशा के बांध के चार गेट खुलने से इंद्रावती और शबरी नदी उफान पर, पहली बार डूबा सुकमा, 4 हजार लोग राहत शिविरों में

chhattisgarh
इंद्रावती नदी का जलस्तर हर घंटे 7 से 8 सेमी बढ़ रहा है। इसे देखते हुए लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है। इधर, सुकमा में 4 हजार से अधिक लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है। बाढ़ से 50 हजार हेक्टेयर की फसल तबाह हो गई है। जगदलपुर | पड़ोसी राज्य ओडिशा के खातिगुड़ा बांध के चार दरवाजे खोल देने से एक बार फिर से इंद्रावती नदी उफान पर है। इस बार इसका पानी जोरा नाला से होकर शबरी नदी में मिल रहा है। यही वजह है कि 2006 के बाद पहली बार बस्तर में बाढ़ से हालात इतने बिगड़े हैं। शबरी का जलस्तर बढ़ने से सुकमा में बाढ़ आ गई है। जगदलपुर की ओर कम पानी जा रहा है। इंद्रावती नदी का जलस्तर हर घंटे 7 से 8 सेमी बढ़ रहा है। इसे देखते हुए लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है। इधर, सुकमा में 4 हजार से अधिक लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है। बाढ़ से 50 हजार हेक्टेयर की फसल तबाह हो गई है। (adsbygoo...
ओडिशा के बांध खोलने से बस्तर की नदियां उफान पर बाढ़ की आशंका

ओडिशा के बांध खोलने से बस्तर की नदियां उफान पर बाढ़ की आशंका

chhattisgarh
जगदलपुर में इंद्रावती का पानी खतरे के निशान तक पहुंच गया है। बीजापुर जिले में भोपालपट्टनम और मद्देड़ के बीच नेशनल हाइवे पर डेढ़ सौ मीटर सड़क बह गई है। सुकमा में शबरी का जलस्तर 24 घंटे में 9.89 मीटर बढ़ गया है। इससे आसपास के इलाके में बाढ़ का पानी भरने लगा है। बस्तर | छत्तीसगढ़ के दक्षिणी हिस्से में कुछ दिनोें से हो रही बारिश के चलते कई नदी-नाले उफान पर हैं। ओडिशा ने खातीगुड़ा बांध के दो दरवाजे खोल दिए हैं। इसके कारण बस्तर, बीजापुर और सुकमा जिलों में कई कस्बे बाढ़ से घिरने लगे हैं। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); सुकमा में शबरी नदी उफान पर है। इसमें 24 घंटे में पानी चार मीटर बढ़ा है। जगदलपुर में इंद्रावती खतरे के निशान पर पहुंच चुकी है। बीजापुर में बाढ़ में करीब 700 मवेशी बह चुके हैं। 65 मकान ढह गए हैं जबकि 268 मकानों को नुकसान हुआ है। करीब डेढ़ हजार एकड़ की फसल भ...