Shadow

Tag: cm bhupesh baghel

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज दुर्ग जिले की पाटन तहसील के ग्राम सेलूद पहुंचकर वहां ग्रामीणों से मुलाकात की और उनके आग्रह पर क्षेत्र के विकास के लिए

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज दुर्ग जिले की पाटन तहसील के ग्राम सेलूद पहुंचकर वहां ग्रामीणों से मुलाकात की और उनके आग्रह पर क्षेत्र के विकास के लिए

Chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज दुर्ग जिले की पाटन तहसील के ग्राम सेलूद पहंुचकर वहां ग्रामीणों से मुलाकात की और उनके आग्रह पर क्षेत्र के विकास के लिए अनेक कार्यो की मंजूरी प्रदान की। मुख्यमंत्री ने पाटन में चार इंग्लिश मीडियम स्कूल प्रारंभ करने, ग्राम पंचायतों में लगभग 9 करोड़ 88 लाख रूपए लागत के विकास कार्यो, सेलूद में 8 करोड़ रूपए की लागत से मिनी स्टेडियम के निर्माण, सेलूद में इंग्लिश मीडियम स्कूल प्रारंभ करने और पाटन क्षेत्र के गौठानों में 5 करोड़ रूपए की लागत से शेड निर्माण की घोषणा की।...
रायपुर : पर्यावरण और प्रकृति के सम्मान के साथ विकास हमारी प्राथमिकता: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : मुख्यमंत्री ने जंगल सफारी नवा रायपुर में वन्य प्राणियों के लिए नवनिर्मित 7 बाड़ों का किया लोकार्पण

रायपुर : पर्यावरण और प्रकृति के सम्मान के साथ विकास हमारी प्राथमिकता: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल : मुख्यमंत्री ने जंगल सफारी नवा रायपुर में वन्य प्राणियों के लिए नवनिर्मित 7 बाड़ों का किया लोकार्पण

Chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज अपने निवास कार्यालय से नवा रायपुर स्थित नंदनवन जंगलसफारी एवं जू में वन्य प्राणियों के लिए नवनिर्मित 7 बाड़ों का ई-लोकार्पण किया। नंदनवन जंगल सफारी के नवनिर्मित सात बाड़ों में लोमड़ी, सियार, चौसिंगा, काला हिरण, कोटरी, नीलगाय तथा लकड़बग्गा का बाड़ा शामिल है। इसे मिलाकर वर्तमान में वहां जंगल सफारी में कुल बाड़ों की संख्या 18 हो गई है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित लोकार्पण कार्यक्रम में वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, कृषि एवं जल संसाधन मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, संसदीय सचिव श्री शिशुपाल सोरी, संसदीय सचिव श्री चन्द्रदेव राय उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने नवीन बाड़ों का लोकार्पण करते हुए नंदनवन जंगल सफारी जू नवा रायपुर को पर्यटकों के लिए और अधिक आकर्षक बनाने की दिशा में वन विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि पर्यावरण और प्रकृत...
रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश  बघेल ने ‘‘नृत्य शास्त्र पौराणिक उत्पत्ति‘‘ कॉफी टेबल बुक का किया विमोचन : लेखिका अंतर्राष्ट्रीय नृत्यांगना पुर्णश्री राउत को दी बधाई

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ‘‘नृत्य शास्त्र पौराणिक उत्पत्ति‘‘ कॉफी टेबल बुक का किया विमोचन : लेखिका अंतर्राष्ट्रीय नृत्यांगना पुर्णश्री राउत को दी बधाई

Chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज शाम अपने निवास कार्यालय में भारत के शास्त्रीय नृत्य परंपरा के नैतिक मूल्यों पर आधारित ‘‘नृत्य शास्त्र पौराणिक उत्पत्ति‘‘ कॉफी टेबल बुक का विमोचन किया। यह कॉफी टेबल बुक संचालनालय संस्कृति एवं पुरातत्व रायपुर द्वारा प्रकाशित की गई है। कॉफी टेबल बुक की लेखिका अंतर्राष्ट्रीय नृत्यांगना पुर्णश्री राउत, सहायक संचालक संस्कृति एवं पुरातत्व रायपुर है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि शास्त्रीय नृत्य हमारी संस्कृति और गौरवशाली परंपरा के अंग रहे हैं। छठवीं-सातवीं शताब्दी में शिव तथा विष्णु मंदिरों में इन नृत्यों का प्रचलन था। मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ की प्राचीन वास्तुकला एवं समृद्ध संस्कृति तथा राज्य के प्राचीन मंदिरों की दीवारों पर नृत्य की प्रतिमाओं के पीछे दार्शनिक संकल्पना को संगीत एवं नृत्य प्रेमियों, पर्यटकों तक पहुंचाने के उद्देश्य से प्रकाशित इस कॉफी टेब...
छत्तीसगढ़ में आरक्षकों की भर्ती के लिए (पीईटी) की रेंजवार समय सारणी जारी, 4 से होगी शुरुआत

छत्तीसगढ़ में आरक्षकों की भर्ती के लिए (पीईटी) की रेंजवार समय सारणी जारी, 4 से होगी शुरुआत

Chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देश पर पुलिस मुख्यालय रायपुर द्वारा आरक्षक संवर्ग की भर्ती के लिए शारीरिक दक्षता परीक्षा (पीईटी) की रेंजवार समय सारणी जारी कर दी गई है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए शारीरिक दक्षता परीक्षा (पीईटी) स्थगित की गई थी। जिसे पुनः शुरू करते हुए आगामी 4 जनवरी से शारीरिक दक्षता परीक्षा का कार्यक्रम जारी किया गया है तथा 20 फरवरी 2021 तक चयन सूची जारी करने का समय निर्धारित किया गया है। पुलिस महानिदेशक श्री डी.एम. अवस्थी द्वारा आरक्षकों की शारीरिक दक्षता परीक्षा और शेष भर्ती प्रक्रिया के लिए निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार रेंज पुलिस महानिरीक्षक द्वारा प्रत्येक रेंज स्तर पर भर्ती समिति का गठन 14 नवम्बर तक किया जाएगा। शारीरिक दक्षता परीक्षा के प्रचार-प्रसार एवं उम्मीदवारों का दिवसवार चार्ट 15 दिसम्बर तक जारी किया जाएगा। जारी कार्यक्रम के अनुसार रायपुर रेंज के कुल 11 हजार...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शेयर किया फोटो, ‘बढ़ौना’ करते नजर आए उनकी धर्मपत्नी और बेटे

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शेयर किया फोटो, ‘बढ़ौना’ करते नजर आए उनकी धर्मपत्नी और बेटे

Chhattisgarh
रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ की संस्कृति और परंपराओं को आगे बढ़ाने का काम लागातार कर रहे हैं। वे छत्तीसगढ़ की तीज- त्योहार और परंपराओं को मानते हुए अपने परिवारजनों की फोटो भी सोशल मीडिया में शेयर करते हैं। मैं चुनाव प्रचार के लिए इस समय बिहार में हूँ। हमारे छत्तीसगढ़ में खेतों में फसलों की लुआई पूरी हो जाने के बाद लुआई को अंतिम रूप देना "बढ़ौना" कहा जाता है। "बढ़ौना" की परम्परा प्रायः घर के मुखिया द्वारा होती है। आज मेरी धर्मपत्नी और मेरे बेटे ने इसे पूर्ण कर तस्वीरें भेजी हैं। pic.twitter.com/7nUmQsV8lo — Bhupesh Baghel (@bhupeshbaghel) November 4, 2020 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक बार फिर से छत्तीसगढ़ की मान्य परंपरा से संबंधित एक फ़ोटो शेयर किए है,जिसमें उनकी धर्मपत्नी और बेटे फसलों की लुआई का काम पूरा होने के बाद “बढ़ौना” करते हुए दिखाई दे रहें है। मुख्यमं...
रायपुर : मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता ’लोकवाणी’ की 12 वीं कड़ी का प्रसारण 8 नवम्बर को : लोकवाणी ’बालक-बालिकाओं की पढ़ाई, खेलकूद, भविष्य’ विषय पर केन्द्रित होगी

रायपुर : मुख्यमंत्री की रेडियो वार्ता ’लोकवाणी’ की 12 वीं कड़ी का प्रसारण 8 नवम्बर को : लोकवाणी ’बालक-बालिकाओं की पढ़ाई, खेलकूद, भविष्य’ विषय पर केन्द्रित होगी

Chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी की 12 वीं कड़ी का प्रसारण 8 नवम्बर, रविवार को होगा। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल लोकवाणी में इस बार ‘बालक-बालिकाओं की पढ़ाई, खेलकूद, भविष्य’ विषय पर प्रदेशवासियों से बात करेंगे। लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केन्द्रों, एफ.एम. रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चैनलों से सुबह 10.30 से 11 बजे तक होगा।...
छत्तीसगढ़ में स्पंज आयरन और स्टील सेक्टर के लिए विशेष पैकेज, क्षेत्रवार छूट की सीमा 60 से 150% तक की गई

छत्तीसगढ़ में स्पंज आयरन और स्टील सेक्टर के लिए विशेष पैकेज, क्षेत्रवार छूट की सीमा 60 से 150% तक की गई

Chhattisgarh
रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा लिए गए दूरदर्शितापूर्ण निर्णयों से कोरोना संकट काल में भी छत्तीसगढ़ में औद्योगिक विकास को गति मिली है। छत्तीसगढ़ सरकार की नई औद्योगिक नीति के तहत अब इस्पात (स्पंज आयरन एण्ड स्टील) क्षेत्र के मेगा अल्ट्रा मेगा प्रोजेक्ट में निवेश हेतु विशेष निवेश प्रोत्साहन पैकेज देने का निर्णय लिया गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा मेगा निवेशकों के लिए घोषित किए गए पैकेज में अधितम 500 करोड़ रूपए तक का निवेश प्रोत्साहन (बस्तर संभाग हेतु 1000 करोड़ तक) मान्य होगा। इसके लिए प्रस्तावित इकाईयों को 31 अक्टूबर 2024 को अथवा उसके पूर्व व्यावसायिक उत्पादन प्रारंभ करना जरूरी होगा। इसी तरह 100 करोड़ रूपए का स्थाई पूंजी निवेश मद में निवेश कर व्यावसायिक उत्पादन आरंभ करने वाली नवीन इकाईयों को आर्थिक निवेश प्रोत्साहन दिया जाएगा। राज्य सरकार द्वारा कोर सेक्टर के उद...
रायपुर : छत्तीसगढ़ी भाषा अस्मिता और लोक संस्कृति को पहचान दिलाने में डॉ.नरेन्द्र देव वर्मा का योगदान अमूल्य: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

रायपुर : छत्तीसगढ़ी भाषा अस्मिता और लोक संस्कृति को पहचान दिलाने में डॉ.नरेन्द्र देव वर्मा का योगदान अमूल्य: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

Chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने प्रसिद्ध साहित्यकार, भाषाविद् और छत्तीसगढ़ राज्य-गीत के रचयिता डॉ. नरेन्द्र देव वर्मा को उनकी जयंती पर उन्हें नमन किया है। 4 नवम्बर को डॉ. नरेन्द्र देव वर्मा की जयंती है। मुख्यमंत्री ने डॉ. नरेन्द्र देव वर्मा को याद करते हुए कहा है कि डॉ. वर्मा बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। उन्होंने कवि, चिंतक, उपन्यासकार, नाटककार, सम्पादक और मंच संचालक जैसी कई भूमिकाओं में अपनी अमिट छाप छोड़ी है। अंग्रेजी में भी उन्होंने अपनी रचनाएं लिखीं। अपनी ओजपूर्ण वाणी और अकाट्य तर्कों से वे किसी को भी पलभर में प्रभावित करने की क्षमता रखते थे। युवा उत्सव के समारोह में उन्होंने अपने विचारों से तत्कालीन प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू को भी गहराई तक प्रभावित किया था। ’अरपा-पइरी के धार, महानदी हे अपार......’ के रूप में उन्होंने अमर रचना दी है, जिसमें छत्तीसगढ़ महतारी का वैभव एक बारगी साकार हो उठ...
छत्तीसगढ़ में दस्तावेजों के पंजीयन में 13.63% और राजस्व प्राप्ति में 8.71% का इजाफा

छत्तीसगढ़ में दस्तावेजों के पंजीयन में 13.63% और राजस्व प्राप्ति में 8.71% का इजाफा

Chhattisgarh
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा छत्तीसगढ़ में 5 डिसमिल से छोटे भू-खण्डों की खरीदी-बिक्री में लगी रोक को हटाने, सम्पत्ति की शासकीय गाइड लाइन दरों में और पंजीयन शुल्क में कमी जैसे- जनहितैषी निर्णयों से विशेषकर प्रदेश के मध्यम वर्ग के लोगों को काफी राहत मिली है। इन निर्णयों की वजह से प्रदेश में कोरोना काल में भी राजस्व दस्तावेजों के पंजीयन और राजस्व प्राप्ति में पिछले वर्ष अक्टूबर माह की तुलना में इस वर्ष अक्टूबर माह में उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज की गई है। वर्ष 2019 के अक्टूबर माह में 16 हजार 504 दस्तावेजों का पंजीयन हुआ था, जबकि वर्ष 2020 के अक्टूबर माह में 18 हजार 754 दस्तावेजांे का पंजीयन हुआ है, जो गत वर्ष के अक्टूबर माह से 13.63 प्रतिशत अधिक है। इस तरह वर्ष 2019 के अक्टूबर माह में दस्तावेजों के पंजीयन से 117 करोड़ 60 लाख रूपए का राजस्व प्राप्त हुआ था, जबकि वर्ष 2020 के अक्टूबर माह में दस्...
मरवाही उपचुनाव : मतदाताओं में उत्साह में सुबह 8 बजे से शुरू होगी वोटिंग, सुबह 11 बजे तक 21.5 प्रतिशत वोटिंग, महिलाएं मतदान में आगे

मरवाही उपचुनाव : मतदाताओं में उत्साह में सुबह 8 बजे से शुरू होगी वोटिंग, सुबह 11 बजे तक 21.5 प्रतिशत वोटिंग, महिलाएं मतदान में आगे

Chhattisgarh
छत्तीसगढ़ मरवाही उपचुनाव के लिए मंगलवार को मतदान शुरू हो गया है। समय बढ़ने के साथ ही मतदाताओं में उत्साह भी बढ़ता जा रहा है। दो घंटे के दौरान ही मतदान में 19 फीसदी की बढ़त हो गई है। सबसे ज्यादा महिलाएं मतदान में आगे हैं। सुबह 11 बजे तक 21.52 फीसदी वोटिंग हो चुकी है, जबकि 9 बजे तक एक घंटे में 2.4 प्रतिशत मतदान हुआ था। मतदाता सुबह 6.30 बजे से ही लाइन में लग गए थे। वहीं मतदान शुरू होने के एक घंटे के दौरान ही ईवीएम में गड़बड़ियां भी सामने आने लगी थीं। पेंड्रा के पतगंवा उपकेंद्र और बूथ 143 पर ईवीएम खराब होने के बाद उसे बदला गया है। बचरवार में भी ईवीएम बदली गई। इस बीच मरवाही के बूथ 146 से हंगामे की शिकायतें मिल रही हैं। जवानों ने मौके पर स्थिति को संभाला। पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन से खाली हुई है सीट पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन के बाद खाली हुई इस मरवाही सीट का दावेदार कौन होगा, इ...