Shadow

सूरजपुर : सुराजी मितान घर-घर दस्तक देकर पहुंचा रहे आर्थिक सहायता राशि : पेंशन, मजदूरी व आर्थिक सहायता राशि करीब 35 करोड़ से अधिक का किया गया भुगतान

surajpur-lockdown-update-07-april-2020

सूरजपुर. कोविड-19 संक्रमण व प्रभाव से आमजनों को सुरक्षित रखने के लिए लाॅकडाउन लागू है। इस अवधि में आर्थिक रूप से लोगों को परेशानियों का सामना न करना पड़े, इसके लिए कलेक्टर श्री दीपक सोनी ने घर पहुंच सेवा के तहत शासन की सहायता राशि में पेशन सेवा बुजुर्गां, जरूरतमंदों तक पहुचाने वाले सुराजी मितानों को मनरेगा मजदूरी भुगतान सहित पीएम सहायता राशि सुरक्षित वितरण सें लाॅकडाउन के उद्देश्य को सार्थक करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

अभी तक सिर्फ पेंशन व मजदूरी राशि करीब 35 करोड़ रुपये से अधिक इन सुराजी मितानों नें वितरण कर अपनी सेवा भाव के जज्बे से सभी को प्रभावित किया है।
बहरहाल आपको बताते चलें कि लाॅकडाउन में सबसे बड़ी चुनौती लोगों को घरों तक पैसे वह भी उनके मजदूरी सहित शासन की विभिन्न सहायता राशि को प्रतिदिन घर घर दस्तक देकर पहुंचा रहे हैं.

इससे बैंक शाखाओं में, एटीएम केंद्रों तक मिलों सफर करने के बाद राशि आहरण जैसी गंभीर परेशानियों से लोगो को राहत देने के साथ बैंकों व एटीएम पर भी काफी हद तक दबाव को इन्होंने अपनी मेहनत से कम करने में अहम भूमिका निभा रहे हैं। इन सुराजी मितानों में पुरुषों के साथ-साथ महिला मितानों की भागीदारी काफी अहम है, जो सुबह से घर-घर पहुंच कर हाथ धुलाई कराने की आदतों व फायदों से अवगत करा सुरक्षित भुगतान घरों पर कर रही है। ऐसे ही एक सुराजी मितान अभिषेक सिंह है जो लाॅकडाउन के अवधि में ग्रामगोपालपुर, पीढा, पसला, नवगई में सुबह 7 से दोपहर 3 बजे तक घरों पर तो कभी पंचायत भवन से करीब 600 से अधिक लोगों को मजदूरी, पेंशन, बचत खाते का पैसा व पीएम सहायता राशि वितरण कर चुके हैं।

उन्होंने बताया कि यह कार्य पैसे कमाने से अधिक सेवा करने का वक्त है। हम सभी अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहे हैं। जब जिले के कलेक्टर श्री सोनी खुद ही हर दिन लोगों के बीच पहंुचकर उनकी जरूरत को समझकर कार्यांे को करते हुए देख हमें भी अपने क्षमता अनुसार काम करने की प्रेरणा मिलती है। इसी कारण आज रविवार छुट्टी का दिन होने के बावजूद सुबह 07 बजे से दोपहर 3 बजे तक ग्रामपीढा व पसला पंचायत भवन पर मानकों का पालन करते हुए करीब 62 लोगों को आर्थिक सहायता राशि बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के वितरण किया है। इनके जैसे जिलें में सैकड़ों सुराजी मितानों द्वारा लाॅकडाउन में अपनी सेवा लगातार सुबह से शाम तक वितरण कर लोगों तक आर्थिक सहायता राशि पहुंचा रहे हैं।

RO-11274/73

Leave a Reply