Shadow

राजीव गांधी न्याय योजना से किसानों में उत्साह : खरीफ की तैयारी में किसानों को मिली मदद

rajiv-gandhi-kissan-nyay-yojna-02-june-2020

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा फसल उत्पादकता को बढ़ावा देने तथा खेती-किसानी को प्रोत्साहन देने के उद्देश्य से शुरू की गई राजीव गांधी न्याय योजना ने राज्य के किसानों में एक नए उत्साह का संचार किया है। इस योजना के अंतर्गत राज्य से 19 लाख किसानों को प्रथम किश्त के रूप में मिली लगभग 1500 करोड़ रूपए की प्रोत्साहन राशि से किसान पूरे मनोयोग से खरीफ की तैयारी जुट गए हैं। इस योजना के माध्यम से राज्य के किसानों को लगभग 5750 करोड़ रूपए मिलेेंगे। कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के दौरान राज्य शासन द्वारा इस योजना के माध्यम से किसानों को मुहैया कराई गई प्रोत्साहन राशि ने खेती-किसानी के लिए संजीवनी का काम किया है। किसान जोर-शोर से खरीफ की तैयारी में जुट गए हैं।

गरियाबंद जिले के ग्राम चिखली के किसान श्री निर्मल देवांगन को राजीव किसान न्याय योजना के अंतर्गत पहली किश्त के रूप में आठ हजार रूपये मिले हैं। इससे वह खरीफ के लिए खेत की जुताई के साथ ही खाद-बीज के इंतजाम में जुट गए हैं। श्री देवांगन ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने किसानों से किया अपना वादा निभाया है और कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के समय में हम जैसे लघु और सीमांत कृषकों को आदान सहायता राशि देकर खेती के लिए सहारा दिया है। श्री देवांगन ने कहना है कि वह इस राशि का उपयोग जोताई, रोपा और मजदूरी भुगतान में करेंगे।

इसी तरह ग्राम तावंरबाहरा के किसान डायमंड साहू ने भी संकट की इस घड़ी में खातों में पैसे आ जाने को लेकर खुशी जाहिर की है। उन्होंने समर्थन मूल्य पर 120 क्विंटल धान बेचा था, जिसके एवज में उन्हें राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत 80 हजार रूपये बोनस के रूप में मिलेंगे। श्री साहू ने कहा कि इस राशि का उपयोग व खेती-किसानी को बेहतर बनाने और द्विफसली रकबे को बढ़ाने में करेंगे। गरियाबंद अंचल के किसान राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत मिली आदान सहायता राशि कि मदद से खरीफ फसल की तैयारी में जुट गये हैं। खेतो एवं मेड़ो की साफ-सफाई से लेकर खरपतवारों की सफाई का कार्य किसान कराने में जुटे है। इस राशि का उपयोग कई किसान अपने उबड़-खाबड़ भूमि को कृषि योग्य बनाने में कर रहे हैं। राजीव गांधी किसान न्याय योजना से गरियाबंद जिले के 66 हजार 710 किसानों को 204 करोड़ एक लाख 34 हजार 747 रूपए बोनस की कुल राशि मिलेगी। प्रथम किश्त के रूप में 51 करोड़ रूपए किसानों के खाते में जमा हुई है।

RO-11274/73

Leave a Reply