Shadow

रायपुर : लॉकडाउन में ‘प्रयास ‘के बच्चे कर रहे व्हाट्सएप्प ग्रुप से पढ़ाई : ज्ञान,कौशल और समझ को बेहतर बनाने में प्रयास की भूमिका सराहनीय

File Photo

रायपुर. कोरोना संक्रमण के चलते लॉकडाउन में ‘प्रयास’ प्रतिष्ठित संस्था  के छात्र-छात्राए व्हाट्सएप्प ग्रुप  के माध्यम  से पढ़ाई कर रहे है। इसके लिए शिक्षकों द्वारा सभी कक्षाओं के बच्चों के लिए विषयवार ग्रुप बनाया गया है। शिक्षक , टॉपिक  से संबन्धित व्याख्यान को वीडियो बनाकर व्हाट्सएप्प ग्रुप में डाल देते है। बच्चों की समस्याओ का निराकरण भी ग्रुप के माध्यम से शिक्षिकों द्वारा किया जाता है।ग्रुप के माध्यम से ही बच्चों का विषय के ज्ञान का परीक्षण भी किया जा रहा है।परीक्षा के बाद परिणाम की जानकारी बच्चों को ग्रुप के माध्यम से दी जा रही है

जीवन की चुनौतियों का कुशलता से सामना करने शिक्षा ऐसा सशक्त माध्यम है,जिससे समाज के साथ-साथ देश का विकास और प्रगति का मार्ग प्रसस्त होता है। गीता में लिखा है”सा विद्या विमुक्ते” अर्थात विद्या वही जो हमे बंधनो से मुक्त करें। छत्तीसगढ़ में शिक्षा के स्तर को बढ़ाने तथा सुलभ बनाने के लिए सरकार द्वारा विभिन्न कदम उठाए गए है।इसी तारतम्य में रायपुर जिले में जरूरतमंद बच्चो को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्राप्त करने के विशेष अवसर प्रदान करने के लिए प्रयास विद्यालय  संचालित है।वर्तमान परिवेश में शिक्षा प्राप्त करने के लिए बढ़ते खर्चो ने दूरदराज इलाकों  के गरीब विधार्थियों के लिए कठिन बना दिया है ।ऐसे बच्चो के बेहतर भविष्य निर्माण के लिए प्रयास स्कूल एक महत्वपूर्ण आधार बना है।प्रयास स्कूल में  बच्चों को चयन परीक्षा के माध्यम से प्रवेश दिया जाता है।

प्रयास के छात्र-छात्राओं को निःशुल्क भोजन,यूनिफार्म,पुस्तक,कोचिंग और स्वास्थ्य सुविधा दी जाती है।यहाँ कक्षा 9 वी से 12 वी तक सीबीएसई और एनसीआरटी पाठ्यक्रम की पढ़ाई होती है।नियमित अध्ययन-अध्यापन और अनुशासन पूर्ण दिनचर्या से इस विद्यालय के 12वी का परिणाम शत-प्रतिशत रहा है। इस संस्था से आई आई टी में 52,आईआईआईटी तथा एनआईटी में 189,एमबीबीएस में 34 और स्टेट इंजिनीरिंग में 613 छात्र-छात्राओं को सफलता मिल  चुकी है। यहाँ 11वी और 12वी के छात्रों को अखिल भारतीय स्तर के परीक्षाओ के लिए विषय विशेषज्ञों द्वारा तैयारी कराई जाती है।

RO-11274/73

Leave a Reply