Shadow

रायपुर : मनरेगा मजदूरों के कार्यस्थल पर ही पहुंचा बैंक

raipur-mgnrega-bank-reach

रायपुर. राज्य सरकार की पहल पर अब मनरेगा मजदूरों के कार्य स्थल पर ही बैंक पहुंच गया है। अब प्रदेश के कई गांवों में मनरेगा अंतर्गत कार्य कर रहे मजदूरों को बीसी सखी (बैंक करेसपॉन्डेट) और डीजी-पेय (डिजीटल पेमेण्ट) सखी के द्वारा कार्यस्थल पर ही उनके खाते से मजदूरी राशि का नगद भुगतान किया जा रहा है। इससे मनरेगा मजदूरों को खाते से पैसे निकालने हेतु बैंको में लम्बी लाइन लगाने से बड़ी राहत मिली है। इससे मजदूरों के समय के साथ बैक आने-जाने में लगने वाले पैसों की भी बचत हो रही है। साथ ही घर पहुंच बैंकिंग सुविधा से बैंकों में अनावश्यक भीड़ रोकने में सफलता मिली है।

मैदानी जिले बेमेतरा के गांव रजकुड़ी, भांड, हरदास, गनियारी, सांकरा, महुआभाठा के मनरेगा मजदूर भी कार्यस्थल पर ही बैंकिंग सुविधा प्राप्त होने से बहुत खुश हैं। मजदूरों ने बताया कि पहले उन्हें मजदूरी की राशि निकालने के लिए अपने गांव से दूर बैंक जाना पड़ता था। बैंको में राशि आहरण करने के लिए उन्हें घण्टों भीड़ में लम्बी-लम्बी लाइनों में खड़ा होना पड़ता था। अब मनरेगा में सुविधाजनक रूप से कार्यस्थल पर मनरेगा मजदूरी भुगतान से हम सभी अत्यंत खुश हैं।

इससे बैंक आने जाने में लगने वाले समय के साथ पैसों की भी बचत हो रही है। कलेक्टर और पंचायत सीईओ के मार्गदर्शन में बैक सखियों द्वारा हितग्राहियों को उनकी आवश्यकतानुसार पेंशन भुगतान, मनरेगा मजदूरी भुगतान, राशि निकासी और जमा, बैंक खाता खोलने सहित अन्य योजनाओं के तहत उनके खाते मे सीधे अन्तरित होने वाली राशियों का नगद भुगतान किया जा रहा है। इससे बैंको में कोरोना संक्रमण के दौरान भीड़ कम होने के साथ लॉकडाउन के दौर में लोगों को बैंक पहुंचने मे हो रही दिक्कतों से राहत मिली है।

राज्य ग्रामीण आजीविका मशन के तहत बैंक सखी के काम से न सिर्फ हजारों जिंदगियों को खुशी मिली है, बल्कि यह महिलाओं के स्वालंबन का आधार भी बन रही है। बैंक सखियों बेमेतरा जिले में 2 माह में 64 लाख का भुगतान हितग्राहियों को किया गया है।

जिले के रजकुड़ी संकुल अंतर्गत ग्राम खिलौरा की अस्थिबाधित दिव्यांग डीजी-पेय सखी बिंदा यादव ने केवल 18 दिनों में 46 हजार 100 रूपए का ट्रान्जेक्शन कर लोगों के समक्ष मिसाल पेश की है। लॉकडाउन में कर्मठता से काम कर रही बैंक सखियों का उत्साहवर्धन भी प्रशासन द्वारा किया जा रहा है। बैंक सखी श्रीमती मोतिम साहू द्वारा पेंशन, मनरेगा मजदूरी, हितग्राही मूलक योजनाओं की कुल 1 लाख 75000 रू. का जन-जन तक पहुच कर नगद भुगतान करने पर जिला कलेक्टर ने टैबलेट प्रदान कर सम्मानित किया है।

RO-11274/73

Leave a Reply