Shadow

दंतेवाड़ा : साग-सब्जी की खेती ने बदली जानकी की तकदीर

dantewada-vegtable-farmer-lady

दंतेवाड़ा जिले की गीदम ब्लॉक अंतर्गत रोंजे निवासी श्रीमती जानकी अटामी एक सामान्य गृहणी है। वह पहले अपने घर के पास उपलब्ध एक एकड़ भूमि में पारम्पारिक तौर से साग-सब्जी उत्पादन करती थीं और वर्ष में करीब 30-40 हजार आय अर्जित करती थी। उद्यानिकी विभाग के कर्मचारियों की सलाह से उन्नत तकनीक से खेती करना आरम्भ किया। वहीं साग-सब्जी की खेती के रकबा को बढ़ाने के लिये निरंतर प्रयास किया। इस दौरान जानकी ने करीब 3 एकड़ क्षेत्र में उद्यानिकी विभाग के राष्ट्रीय सूक्ष्म सिंचाई योजनान्तर्गत ड्रिप स्थापित कर गोभी, भिण्डी, बैंगन, लौकी, मिर्च आदि फसल लगाकर अच्छी आय अर्जित करने लगी।

इस वर्ष अभी तक 50 हजार रूपये आय अर्जित कर चुकी है और वर्तमान में डेढ़ एकड़ में मिर्च तथा आधा एकड़ में बैंगन की खेती ड्रिप पद्धति से कर रही हैं, जिससे लगभग तीन लाख रूपये आय होने की संभावना है। उद्यानिकी फसल अपना कर श्रीमती जानकी बहुत प्रसन्न है। जिससे उनकी आर्थिक स्थिति और अधिक सुदृढ़ हो गया है। निश्चित रूप से श्रीमती जानकी का घर-परिवार खुशहाल हो गया है और अपने क्षेत्र के लिये वह प्रेरणा स्त्रोत बन गयी है। जानकी की इस सफलता को देखकर अब आस-पास के दूसरे किसान भी उद्यानिकी फसल अपना रहे हैं।

RO-11274/73

Leave a Reply