Shadow

रायपुर : कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने पंजीयन कार्यालयों, कारखानों-प्रतिष्ठानों में सावधानी बरतने के शासन द्वारा निर्देश

रायपुर. दुनियाभर में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए आवश्यक कदम उठाए जा रहे है। इसी तारतम्य में छत्तीसगढ़ के सभी कारखानों-प्रतिष्ठानों में भी 30 अप्रैल 2020 तक आवश्यक सावधानियां बरतने के निर्देश दिए गए है। इस संबंध में श्रमायुक्त सह मुख्य कारखाना निरीक्षक छत्तीसगढ़ ने प्रदेश के सभी उप श्रमायुक्त, सचिव छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल, कल्याण आयुक्त छत्तीसगढ़ श्रम कल्याण मण्डल, सभी उप संचालक और सहायक संचालक औद्योगिक स्वास्थ्य एवं सुरक्षा एवं हाईजिन लैब, सभी सहायक श्रमायुक्तों और श्रम पदाधिकारियों को परिपत्र जारी कर दिया गया है।

परिपत्र में कहा गया है कि कार्यक्षेत्र परिसर में सघन रूप से हाथ धोने के लिए प्रेरित किया जाये। इसके लिए सभी कार्यक्षेत्र परिसर में हाथ धोने के लिए स्थान सुनिश्चित किया जाये और श्रमिकों, ग्राहकों और आगंतुकों के लिए साबुन तथा सेनेटाईजर की पर्याप्त व्यवस्था की जाए। यदि कोई श्रमिक बीमार हैं तो उन्हें घर पर रहने के लिए प्रोत्साहित करें तथा राज्य हेल्पलाईन नम्बर 0771-2235091 और 97133-73165 और टोल फ्री नम्बर 104 की जानकारी दी जाए। श्रमिकों को श्वसन संबंधी सावधानियों के लिए प्रोत्साहित करें, जिसमें खांसी और छींक के दौरान मुंह को ढक कर रखें। जहां तक संभव हो, कार्यस्थल पर अन्य श्रमिकों के फोन, कार्यालय के डेस्क या अन्य उपकरणों का उपयोग कम से कम करें। श्रमिकों या कर्मचारियों के समूह को इकठ्ठा करने से बचें।

संभावित संक्रमित व्यक्तियों की शीघ्र पहचान हेतु आवश्यक कदम उठाए और श्रमिकों, ग्राहकों, आगंतुकों तथा अन्य लोगों को संक्रमित व्यक्तियों से पृथक रखें। यदि किसी विदेशी प्रतिनिधिमंडल, अधिकारी, कर्मचारी ने हाल ही में परिसर का दौरा किया है या अधिकारी-कर्मचारियों ने कुछ विदेशी स्थानों का दौरा किया है या भविष्य में कोई यात्रा संभावित है तो नियोक्ता जिला प्रशासन के साथ ही निकटतम सरकारी अस्पताल को सूचित करें। आवश्यकता होने पर नियोक्ता अपने अधिकारी-कर्मचारियों को मास्क प्रदान करें। चिकित्सकीय अवकाश लेने वाले व्यक्तियों को चिकित्सा प्रमाण पत्र हेतु अनावश्यक दबाव न बनाएं क्योंकि वर्तमान में लगभग चिकित्सक एवं स्टॉफ व्यस्त है।

कारखानों-प्रतिष्ठानों को निर्देशित किया गया है कि नियमित हाउसकीपिंग व्यवस्था को बनाए रखें, जिसमें नियमित सफाई, उपकरण और काम के वातावरण के अन्य तत्वों को कीटाणुरहित करना शामिल है। रसायनों का चयन ऐसे किया जावे जिससे की संभावित वायरल पैथोजेन्स को नाश करने में मदद हो। कीटाणुशोधन उत्पादों के उपयोग के लिए निर्माता के निर्देशों का पालन सुनिश्चित करें। नियमित रूप से हैण्ड रेलिंग आदि को कीटाणुरहित किया जाए। कैंटीन, भोजन कक्ष में उचित स्वच्छता बना रखें, कैंटीन में बुफे काउंटरों पर रखा जाने वाल भोजन शिशु घर, पालना घर, क्रेच हो तो उसका सतत निगरानी किया जावे और उसे कीटाणुरहित किया जाएं। कर्मचारियों की बायोमेट्रिक उपस्थिति को स्थगित किया जावे। कोरोना वायरस के लक्षणों एवं बचाव के लिए जागरूकता अभियान चलाएं तथा इससे संबंधित सम्पूर्ण जानकारी बैनर, पोस्टर तथा नोटिस बोर्ड में लगाया जाना सुनिश्चित करें।

राज्य शासन द्वारा कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रदेश के सभी पंजीयन कार्यालयों में सावधानी बरतने के निर्देश दिए है। इस संबंध में वाणिज्य कर (पंजीयन विभाग) द्वारा मंत्रालय महानदी भवन से सभी जिला कलेक्टरों को परिपत्र जारी किया गया हैं।  कलेक्टरों से कहा गया है कि पंजीयन के लिए उपस्थित होने वाले प्रत्येक व्यक्तियों को हैण्ड सेनेटाइजर से हाथ धुलाई की व्यवस्था की जाए। सभी उपपंजीयक कार्यालयों में केवल पक्षकारों, साक्षियों के अलावा अन्य व्यक्तियों को प्रवेश नहीं दिया जाए। पक्षकारों एवं साक्षियों के बायोमैट्रिक निशान लेने के पहले हैण्ड सेनेटाइजर से पुनः साफ करने के बाद ही बायोमैट्रिक निशान लिया जाए। पंजीयन कार्यालयों में भीड़ की स्थिति निर्मित होने पर आवश्यकता पड़ने पर बेरिकेटिंग किया जाए एवं होमगार्ड्स तैनात किए जाए।

RO-11243/71

Leave a Reply