Shadow

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा ‘महिलाओं के सहयोग से करेंगे हम कोरोना को छत्तीसगढ़ में परास्त’

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि कोरोना वायरस से बचाव की लड़ाई में महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने इस लड़ाई में सहयोग के लिए महिलाओं की विशेष रूप से सराहना की और आगे भी महिलाओं से सहयोग का आव्हान किया है। श्री बघेल ने अपनी अपील में कहा है कि- कोरोना वायरस से बचाव की लड़ाई में हर कोई अपना योगदान दे रहा है पर इसमें सबसे महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर रही है हमारे राज्य की महिलाएं। आज मैं विशेष तौर पर महिलाओं का धन्यवाद व्यक्त करना चाहता हूँ।

अप्रैल और मई माह का राशन मिलेगा एक मुश्त

मुख्यमंत्री ने अपील में कहा है कि छत्तीसगढ़ में घरों से लेकर खेत-खलिहान तक, आंगनबाड़ी से लेकर कुटीर उद्योगों तक और शिक्षण संस्थानों से लेकर स्वास्थ्य सेवाओं तक महिलाओं की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है। एक माँ के रूप में, पत्नी के रूप में बहन के रूप में इस कोरोना वायरस से बचाव और इसके फैलाव को रोकने में आपकी भूमिका सबसे महत्वपूर्ण है।

अवकाश अवधि में बच्चों को घर पहुंचाकर दी जाएगी मध्यान्ह भोजन की सामग्री

श्री बघेल ने महिलाओं से कहा है कि मेरा आपसे आग्रह है कि आप स्वयं घरों में रहे, अपने बच्चों और परिवारजनों को घर में रहने के लिए प्रेरित करे। घर में ही रहकर आप कोरोना वायरस से बचाव के लिए राज्य सरकार ने जो उपाय बताए उनका पालन खुद भी करे और सम्पूर्ण परिवार को भी कराये ।

लॉक डाउन में भी सुरक्षित रहेगी नौकरी

मुख्यमंत्री ने कहा है कि लॉक डाउन के दौरान आपको राशन आदि की परेशानी न हो इसके लिए भी हमने कदम उठाए है। हमने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के राशनकार्डधारकों को अप्रैल एवं मई माह 2020 का चावल का एकमुश्त वितरण करने का निर्णय लिया है। यहीं नहीं हमने अवकाश अवधि में स्कूली बच्चों को मध्यान्ह भोजन दिए जाने का निर्णय लिया गया है। इस योजना में मध्यान्ह भोजन हेतु 40 दिन का सूखा दाल और चावल बच्चों के पालकों को स्कूल से प्रदाय किया जाएगा।

इसी प्रकार आंगनबाड़ी केन्द्र के बच्चों के लिए टेक होम राशन वितरण के निर्देश दिए गए हैं। लॉक डाउन की अवधि में 03 से 06 वर्ष आयु के सामान्य, मध्यम और गंभीर कुपोषित बच्चों को गर्म भोजन के स्थान पर वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में 125 ग्राम रेडी-टू-ईट प्रतिदिन के मान से 750 ग्राम टेक होम राशन (रेडी टू ईट) का अनिवार्य रूप से वितरण के निर्देश दिए हैं। शेष हितग्राहियों को भी पात्रता अनुसार रेडी-टू-ईट का वितरण यथावत जारी रहेगा।

डॉ.खूबचंद बघेल स्वास्थ योजना और मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य योजना में मिलेगी ईलाज की सुविधा

श्री बघेल ने महिलाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि मैं राज्य की सभी महिलाओं को आश्वस्त करना चाहता हूँ कि अगर वे कही रोजगार या नौकरी कर रही है तो लॉक डाउन की वजह से उनका रोजगार या नौकरी नहीं जायेगी। हमने उनके नियोक्ताओ को भी इस बारे में निर्देश जारी कर दिए है।आपके स्वास्थ्य की भी हम चिंता कर रहे है। डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ योजना और मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य योजना के तहत मुश्किल की घड़ी आने पर हम आपकी मदद के लिये तैयार है।

उन्होंने अपनी अपील में कहा कि मैं एक बार फिर परिवार और छत्तीसगढ़ राज्य के प्रति आपके समर्पण और त्याग की सराहना करता हूँ और फिर ताकीद करता हूँ कि आपके सहयोग से ही हम कोरोना को छत्तीसगढ़ में परास्त करेंगे।

RO-11243/71

Leave a Reply