Shadow

लाॅकडाउन 2.0: रेस्टोरेंट, शराब दुकानें अब 21 अप्रैल तक बंद; 3 मई तक प्रदेश में धारा-144 लागू, स्वास्थ्य मंत्री सिंह देव ने लोगों से सहयोग की अपील की

ts-singh-dev-cg

रायपुर | कोरोना संक्रमण को रोकने लिए बुधवार से 19 दिन का लॉकडाउन 2.0 शुरू हाे गया है। इससे पहले मंगलवार देर शाम राज्य सरकार ने नए आदेश जारी कर 3 मई तक पूरे प्रदेश में धारा-144 लगा दी है। पंजीयन कार्यालय, होटल, बार, रेस्टोरेंट और शराब दुकानों को 21 अप्रैल तक बंद करने के आदेश जारी किए गए हैं। इससे पहले इन्हें 14 अप्रैल तक के लिए बंद किया गया था।

हाईकोर्ट समेत प्रदेश के सभी कोर्ट में 3 मई तक सुनवाई नहीं

छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने भी प्रदेश के सभी कोर्ट के लिए लाॅकडाउन 3 मई तक बढ़ा दिया है। चीफ जस्टिस पीआर रामचंद्र मेनन के निर्देश पर रजिस्टार जनरल नीलमचंद सांखला ने हाईकोर्ट, सभी जिला न्यायालय, श्रम न्यायालय, परिवार और व्यापारिक न्यायालय समेत प्रदेश के सभी अदालतों को 3 मई तक बंद रखने का निर्देश जारी किया है। इस दौरान सभी सुनवाई बंद रहेंगी।

शहरों से ज्यादा लोग गांवों में सतर्क, ध्यान देने की जरूरत

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि कोरोना से लड़ने के लिए लॉकडाउन बहुत जरूरी है। उन्होंने बढ़ाए गए लॉकडाउन को लेकर भी इशारों में बता दिया कि सख्ती बढ़ने वाली है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- आने वाले समय में और कठिनाइयां महसूस हो सकती हैं। इसके लिए हमें तैयार रहना है। उन्होंने लोगाें से अपील की- आपका सहयोग मिलेगा ये विश्वास है। उन्होंने कहा- शहरों से ज्यादा गांवों में लोग सतर्क हैं और ध्यान रख रहे हैं।

रायपुर: मीटर रीडिंग 20 के बाद 2 माह का बिल आएगा, छूट भी उसी में

प्रदेश में अब 20 अप्रैल के बाद बिजली कंपनी के कर्मचारी घर-घर जाकर मीटर रीडिंग कर सकते हैं। लोग मोर बिजली ऐप के जरिए भी अपने मीटर की रीडिंग दर्ज कर खुद ही बिल जेनरेट कराकर उसे ऑनलाइन जमा कर सकते हैं। अफसरों ने इस स्थिति में लोगों को दो महीने के बिल में 800 यूनिट पर 50 प्रतिशत छूट योजना का लाभ मिलेगा। मार्च में मीटर रीडिंग नहीं होने से एवरेज बिल भेजा गया था।

बस्तर: कई इलाकों को वॉक फ्री जोन घोषित किया गया

बस्तर शहर में कुछ इलाकों को वॉक फ्री जोन घोषित कर दिया गया है। इसमें शहर का संजय बाजार वाला इलाका मुख्य है। यहां वाहनों का प्रवेश पूरी तरह बंद कर दिया गया है। पूरे शहर को छह जोन में बांटा गया है। बस्तर में अभी तक एक भी कोरोना संक्रमण का मामला सामने नहीं आया है। हालांकि कई संदिग्ध केस जरूर सामने आए हैं। इनमें तीन की सैंपल रिपोर्ट भेजी गई थी और वो निगेटिव आई है।

RO-11274/73

Leave a Reply