Shadow

नारायणपुर : बिजली कर्मवीरों को भी याद करने का समय : हम बैठे घरों में वह 24 घंटे पहुंचा रहे बिजली

नारायणपुर। लॉकडाउन के दौरान नारायणपुर सहित पूरे छत्तीसगढ़ में शहरवासियों और ग्रामीणवासियों को किसी प्रकार की परेशानी ना हो इसलिए सभी जरूरत का ख्याल रखते हुए उन्हें आवश्यक सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है, ताकि जरूरी सेवाओं में किसी प्रकार की अड़चन न आये और जनता को किसी प्रकार कि दिक्कत या परेशानी न उठानी पड़े। आज के हालात में जब सब तरफ चिकित्सक, नर्सिग सेवा, पुलिस सेवाओं के लिए सराहा जा रहा है जो कि सही भी है और जरूरी भी है, लेकिन क्या कभी किसी ने या आपने सोचा है कि इस बीच एक अमलां/तबका ऐसा भी है जो हर प्राकृतिक आपदा या वर्तमान हालात में भी चुपचाप अपना काम बेहतर तरीके से कर रहा है और किसी को इसकी भनक भी नहीं है। हम जब घर में बैठे है तब क्या आपने सेचा है कि आपके घर में बिजली कैसे बराबर आ रही है, कौन लोग इसे सुचारू रूप से संचालित कर रहे है, जिससे अस्पताल, कार्यालय, इन्टरनेट और सब कुछ ठीक-ठाक तरीके से चल रहा है ।

पूरे छत्तीसगढ़ समेत नारायणपुर में आमजन को अब ठंड का एहसास कम होने लगा है। तेज धूप और गर्मी महसूस होने से लोग घरो में बैठे है, लेकिन कोई तो है, जो आपके लिए तपती धूप में कही न कही काम कर रहा है। लॉकडाउन में बिजली की व्यवस्था सुचारू रूप से चले इसके लिए छत्तीसगढ़ सहित नारायणपुर जिले में भी लगभग एक सैकड़ा अधिकारी कर्मचारी दिन-रात काम पर लगे है ताकि हम लोग कूलर-पंखे और एसी की हवा लेते रहे है। जिले में दो असिस्टेंड इंजीनियर, चार जूनियर इंजीनियर, 16 स्टेशन ऑपरेटर, 11 कार्यालय सहायक और 55-60 लाईनमेन और तकनीशियन आपको बिजली की सही ढंग से 24 घंटे आपूर्ति में जुटे है ।
खासकर तकनीकी लाईनमेन कर्मचारी है जो हर समय लाइन से विद्युत लाईन से जुड़ी दिक्कतों को दुरूस्त करने तैयार खड़े रहते है।

जैसे-जैसे गर्मी बढ़ेगी वैसे ही ट्रांसफार्मर खराब, फाल्ट होने आदि संबंधी शिकायतें तेजी से आने लगेंगी। विद्युत विभाग के अधिकारी-कर्मचारी इसके लिए विशेष सावधानी बरत रहे है। विद्युत लाईन, टॉन्सफार्मर और विद्युुत तारों के पास पेड़ों की कटाई-छंटाई भी कर रहे है। लॉंकडाउन के दौरान लोग घरों में रहकर समय बीता रहे हंै और टी.व्ही पर मनपसंद सीरियल देख रहे है। ऐसे समय 24 घंटे बिजली की सुचारू रूप से आपूर्ति रहना भी जरूरी है। कही मंत्रियों, सचिवों की वीडियों कॉन्फ्रेसिंग या कोई अतिआवश्यक सरकारी कार्य आदि में बिजली उपकरणों के लिए पर्याप्त बिजली चाहिए। यही सब कार्य मौन रहकर बिजली कर्मचारी कर रहे है। क्या उनका यह कार्य सराहनीय और काबिले तारीफ नही है, बिलकुल है।

RO-11274/73

Leave a Reply