Shadow

Author: Media Desk

छत्तीसगढ़ विधानसभा में अब दो विधायकों के बीच कांच की दीवार होगी, सदन की तैयारी की समीक्षा करने पहुंचे अध्यक्ष

छत्तीसगढ़ विधानसभा में अब दो विधायकों के बीच कांच की दीवार होगी, सदन की तैयारी की समीक्षा करने पहुंचे अध्यक्ष

chhattisgarh, News, politics
रायपुर. छत्तीसगढ़ की विधानसभा की कार्यवाही पर भी कोरोना का असर पड़ेगा। सफाई और सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान इस दौरान रखा जाएगा। सोमवार को यहां तैयारियों का जायजा लेने विधानसभा के अध्यक्ष चरणदास महंत पहुंचे। छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र 25 से 28 अगस्त तक चलेगा। एक सीट पर पहले की तरह दो विधायक बैठेंगे। लेकिन इनके बीच कांच की एक दीवार लगाई जा रही है। इस कांच को भी समय-समय पर सैनिटाइज किया जाएगा। अध्यक्ष डॉ. चरण दास महंत ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि सदन और विधान सभा परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग से संबंधित किये जाने वाले सभी उपायों को 20 अगस्त तक पूरा कर लिया है। विधान सभा के प्रमुख सचिव चन्द्र शेखर गंगराड़े ने बताया कि इस बार कोरोना संक्रमण के खतरे की वजह से कई सावधानियां बरती जा रही हैं। इस बार सदन में भोजन की व्यवस्था भी नहीं होगी। उन्होंने बताया कि सिर्फ विधायकों को ही प्रवे...
विशेष लेख : मिनीमाता ने छत्तीसगढ़ को राष्ट्रीय क्षितिज पर दी नई पहचान

विशेष लेख : मिनीमाता ने छत्तीसगढ़ को राष्ट्रीय क्षितिज पर दी नई पहचान

chhattisgarh, News, special
छत्तीसगढ़ की पहली महिला सांसद मिनीमाता बहुआयामी व्यक्तित्व की धनी थी। अपने प्रखर नेतृत्व क्षमता की बदौलत उन्होंने राष्ट्रीय नेताओं के बीच उनकी अलग पहचान थी। दलित शोषित समाज ही नहीं सभी वर्गो में उनके नेतृत्व मान्य था। उन्होंने संसद में अस्पृश्यता निवारण अधिनियम पारित कराने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। मिनीमाता के समाज हितैषी कार्यो की वजह से लोकप्रियता के शीर्ष पर पहंुची। उनके कार्यो से छत्तीसगढ़ के सतनामी समाज को अखिल भारतीय स्तर पर प्रतिष्ठा मिली। मिनीमाता ने समाजसुधार और सभी वर्गों की उन्नति और बेहतरी के कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। उन्होंने जन सेवा को ही जीवन का उद्ेश्य मानकर कार्य किया। उन्होंने नारी उत्थान, किसान, मजदूर, छूआ-छूत कानून, बाल विवाह, दहेज प्रथा, निःशक्त व अनाथों के लिए आश्रम, महिला शिक्षा और जनहित के अनेक फैसलों और समाज हितैषी कार्यों में महत्वपूर्ण योगदान दिया। मिन...
मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया की विशेष पहल पर मुख्यमंत्री सुगम सड़क योजना के तहत आरंग विकासखण्ड के शासकीय भवनों तक होगी सुगम सड़के

मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया की विशेष पहल पर मुख्यमंत्री सुगम सड़क योजना के तहत आरंग विकासखण्ड के शासकीय भवनों तक होगी सुगम सड़के

chhattisgarh, Govt Schemes, News
रायपुर। नगरीय प्रशासन और श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया की विशेष पहल पर आरंग विकासखण्ड के विभिन्न ग्राम पंचायतों के पहुंचविहीन शासकीय भवनों तक पक्का पहुच मार्ग निर्माण के लिए 5 करोड़ 11 लाख रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की गई है। यह मंजूरी मुख्यमंत्री सुगम सड़क योजना के तहत मिली है। इनमें चंदखुरी क्लस्टर के 13 गांवों के पहुंचविहीन शासकीय भवनों में पक्का मार्ग निर्माण लगभग 2.05 किलोमीटर के लिए एक करोड़ 98 लाख 93 हजार रूपए और गोढ़ी क्लस्टर के 10 गांवों के पहुचविहीन शासकीय भवनों में लगभग 3.05 किलोमीटर पक्का मार्ग निर्माण के लिए 3 करोड़ 12 लाख 53 हजार रूपए की स्वीकृति दी गई है। इस आशय के आदेश कार्यालय प्रमुख अभियंता, लोक निर्माण विभाग द्वारा जारी कर दिया गया है। आरंग विकासखण्ड के इन गांवों के पहुंचविहीन शासकीय भवनों तक पक्का मार्ग निर्माण किया जायेगा इनमें शासकीय बालिका हायर सेकेण्ड्री ...
मंत्री गुरु रूद्रकुमार : अब हर घर को मिलेगा नल से जल, 42 लाख परिवारों को मिलेगा मुफ्त नल कनेक्शन

मंत्री गुरु रूद्रकुमार : अब हर घर को मिलेगा नल से जल, 42 लाख परिवारों को मिलेगा मुफ्त नल कनेक्शन

chhattisgarh, Govt Schemes, News
रायपुर। राज्य सरकार की मंशानुरूप ग्रामीण क्षेत्रों में बेहतर पेयजल व्यवस्था करने की दिशा में तेजी से कार्य किए जा रहे हैं। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रूद्रकुमार की विशेष पहल पर  अब जल जीवन मिशन के कार्य नए अनुबंध दर पर किए जाएंगे। मंत्री गुरु रुद्रकुमार ने कहा कि राज्य में हर घर में नल से जल मिलेगा। उन्होंने कहा कि राज्य शासन की महत्वाकांक्षी मिनीमाता अमृत धारा नलजल योजना के तहत प्रदेश के सभी 42 लाख परिवार को निःशुल्क नल कनेक्शन उपलब्ध होगा। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के सचिव की अध्यक्षता में बीते दिनों राज्य स्तरीय निविदा एवं क्रय समिति और वित्त विभाग के प्रतिनिधि की उपस्थिति में बैठक आयोजित हुई। जिसमें रुचि की अभिव्यक्ति के माध्यम से प्राप्त न्यूनतम दरों को औचित्य प्रतिपादित कर स्वीकृति की अनुशंसा की। विशेष पहल: जल जीवन मिशन कार्य अब नए अनुबंधित दर पर मंत्री गुरु...
गोधन न्याय योजना : पहले लोग नाली में या सड़क किनारे फेंक देते थे गोबर, अब हर दिन पांच सौ रुपए कमा रहे

गोधन न्याय योजना : पहले लोग नाली में या सड़क किनारे फेंक देते थे गोबर, अब हर दिन पांच सौ रुपए कमा रहे

chhattisgarh, Govt Schemes, News, special
भिलाई के कोसा नाला के पशुपालक रोहित यादव के पास सोलह गायें हैं। हर दिन इनसे लगभग दो सौ से तीन सौ किलोग्राम गोबर होता है। इसका डिस्पोजल रोहित के लिए पहले बड़ी समस्या थी। गोधन न्याय योजना से यह समस्या तो दूर हो गई, उन्हें इसकी अच्छी खासी कीमत मिलने लगी है। हर दिन वे पांच सौ से छह सौ रुपए का गोबर बेच रहे हैं। 31 जुलाई को जब भुगतान हुआ तो रोहित के खाते में लगभग तीन हजार रुपए की राशि आई। रोहित ने बताया कि मेरे पास गोबर रखने के लिए जगह नहीं है। इसलिए हर दिन गौठान में आकर गोबर बेच देता हूँ। शहरी क्षेत्रों में गोबर का डिस्पोजल बड़ी समस्या है। अब यह योजना शुरू हो गई है तो मुझे इसके पैसे भी मिल रहे हैं। रोहित ने अपना गोबर जोन 4 स्थित शहरी गौठान में बेचा है।  भिलाई के जोन 4 में स्थित शहरी गौठान की तरह ही अन्य खरीदी केंद्रों में भी रोहित की तरह अनेक हितग्राही 31 जुलाई को पहली खरीदी का भुगतान ले च...
विशेष लेख : छत्तीसगढ़ में वाटर-एडवेंचर टूरिज्म की असीम संभावनाएं

विशेष लेख : छत्तीसगढ़ में वाटर-एडवेंचर टूरिज्म की असीम संभावनाएं

chhattisgarh, News, tourism
छत्तीसगढ़ में पर्यटन की असीम संभावनाएं है। यहां जंगल, पहाड़, नदी, जलाशय और एतिहासिक एवं पुरातात्विक महत्व के अनेक दर्शनीय स्थल है। प्रदेश में लोकल टूरिज्म को बढ़ावा देने और स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मंशा के अनुरूप पर्यटन मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू के कुशल नेतृत्व में कार्य-योजना तैयार की गयी है। कार्य योजना में छत्तीसगढ़ के प्राकृतिक सौंदर्य और पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए वेलनेस टूरिज्म, वाटर टूरिज्म, एडवेंचर टूरिज्म, एग्रो टूरिज्म और फिल्म टूरिज्म को शामिल किया गया है। पर्यटन विभाग द्वारा पर्यटन के क्षेत्र में निजी निवेश एवं ग्रामीण पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए नयी पर्यटन नीति तैयार की गयी है। छत्तीसगढ़ में राम वन गमन पर्यटन परिपथ में आने वाले 75 स्थलों का चयन किया गया है। प्रथम चरण में 9 स्थानों-सीतामढ़ी हरचौका, रामगढ़, शिवरीनाराण...
रायपुर : वनाधिकार मिलने से वनांचल के परिवारों की संवरी जिन्दगी

रायपुर : वनाधिकार मिलने से वनांचल के परिवारों की संवरी जिन्दगी

chhattisgarh, Govt Schemes, News
रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व वाले छत्तीसगढ़ सरकार के जनहितैषी निर्णय के फलस्वरूप वनभूमि में वर्षों से काबिज लोगों को वनाधिकार पत्र मिलने से बस्तर जिले के अनेक गरीब परिवारों की जिंदगी संवर गई है। छत्तीसगढ़ शासन ने वन क्षेत्रों में वन भूमि पर काबिज लोगों की भलाई हेतु लिए गये संवेदनशील निर्णयों के कारण लंबे समय तक इस भूमि में काबिज होकर महतारी की सेवा कर अपने कुटूम्ब का भरण-पोषण कर रहे भूमि पुत्रों को आखिरकार जंगल जमीन का मालिकाना हक मिल ही गया है। जिससे वन भूमि के स्वामित्व को लेकर उनकी चिंता दूर हुई है, अब वे निश्चिंत होकर अपनी मेहनत से इस जमीन में सोना उगा रहे हैं। इस योजना के फलस्वरूप बस्तर जिले के तोकापाल अनुविभाग के कुल 11 हजार 552 हितग्राहियों को वनाधिकार पत्र मिलने से यह जमीन उनके परिवार के लिए खुशहाल जीवन एवं अतिरिक्त आय का जरिया बन गया है। तोकापाल राजस्व अनुवि...
कोरोना वायरस : छत्तीसगढ़ में कल मिले 285 नए मरीज, 227 डिस्चार्ज, 6 मौत, एक्टिव 3243

कोरोना वायरस : छत्तीसगढ़ में कल मिले 285 नए मरीज, 227 डिस्चार्ज, 6 मौत, एक्टिव 3243

chhattisgarh, News
रायपुर। छत्तीसगढ़ स्वास्थ विभाग के जारी मेडिकल बुलिटिन के अनुसार प्रदेश में कल 285 नए मरीज मिले है जिसमे से रायपुर से अधिकतर 109 मरीज मिले है, वही दुर्ग 37, बिलासपुर से 30, कांकेर से 24, बलोदा बाजार से 18, बलरामपुर से 11, रायगढ़ व बस्तर से 9-9, सरगुजा से 7, राजनांदगाव व कोरबा से 6-6, कोंडागांव से 5 व जांजगीर चाम्पा से 3-3 मरीज मिले है. वही 227 मरीज स्वस्थ हो कर डिस्चार्ज किये गए है, पिछले 24 घंटो में 6 नयी मौते भी हुई है। फलस्वरूप एक्टिव संख्या 3243 हो गयी है। COVID19 cases rise to 12148 with 285 new infections reported today in Chhattisgarh.The numbers of active and recovered cases are 3243 and 8809 respectively.#ChhattisgarhFightsCorona@TS_SinghDeo @ChhattisgarhCMO @Niharikaspeaks pic.twitter.com/AKZoUuUneK — Health Department CG (@HealthCgGov) August 9, 2020 ...
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोकवाणी रेडियो कार्यक्रम में बोले : हमारा संविधान हर समुदाय को न्याय देने का आधार, न्याय योजनाएं, नई दिशाएं’ विषय पर हुई चर्चा

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोकवाणी रेडियो कार्यक्रम में बोले : हमारा संविधान हर समुदाय को न्याय देने का आधार, न्याय योजनाएं, नई दिशाएं’ विषय पर हुई चर्चा

chhattisgarh, entertainment, News, politics
रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज अपनी रेडियो वार्ता लोकवाणी की नवीं कड़ी के माध्यम से आम जनता से रूबरू हुए। उन्होंने 9 अगस्त को अगस्त क्रांति दिवस और विश्व आदिवासी दिवस का विशेषरूप से उल्लेख करते हुए इनके महत्व की चर्चा की। उन्होंने प्रदेशवासियों को विश्व आदिवासी दिवस की शुभकामनाएं भी दीं। श्री बघेल ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने आज के ही दिन वर्ष 1942 में भारत छोड़ो आंदोलन शुरु करने की घोषणा की और ‘करो या मरो’ का नारा दिया। यह घटना भारतीय स्वतंत्रता संग्राम का निर्णायक मोड़ साबित हुई। ‘न्याय योजनाएं, नई दिशाएं’ मुख्यमंत्री ने रेडियो श्रोताओं के साथ ‘न्याय योजनाएं, नई दिशाएं’ की व्यापक अवधारणा और स्वतंत्रता आंदोलन से लेकर वर्तमान दौर में इसके क्रमशः विकास और आदिवासियों, किसानों, मजदूरों, जरूरतमंदों सहित सभी वर्गाें के लिए न्याय योजना को धरातल पर उतारने के राज्य सरकार क...
रायपुर : मुख्यमंत्री ने टी.आई.आर. वेबपोर्टल का किया शुभारंभ

रायपुर : मुख्यमंत्री ने टी.आई.आर. वेबपोर्टल का किया शुभारंभ

chhattisgarh, entertainment, Govt Schemes, News
रायपुर. मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज अपने निवास कार्यालय में विश्व आदिवासी दिवस पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आयोजित कार्यक्रम में आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा तैयार की गई ‘ टी.आई.आर. वेब पोर्टल का शुभारंभ किया। इस अवसर पर आदिम जाति और अनुसूचित जाति विकास मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री अमरजीत भगत, उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया, राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल और नगरीय विकास मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, मुख्य सचिव श्री आर. पी. मण्डल सहित अनेक जनप्रतिनिधि और प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।...